इंडिगो एयरलाइंस के स्टेशन मैनेजर रुपेश सिंह की हत्या मामले में अभी भी पुलिस का हाथ खाली ही है 

इंडिगो एयरलाइंस के स्टेशन मैनेजर रुपेश सिंह की हत्या मामले में अभी भी पुलिस का हाथ खाली ही है 

 विचार अभिव्यक्ति  :-संतोष सिंह स्टेट हेड ,कशिश न्यूज 
इंडिगो एयरलाइंस के स्टेशन मैनेजर रुपेश सिंह की हत्या मामले में अभी भी पुलिस का हाथ खाली ही है हलाकि कहने वाले कह रहे हैं कि पटना पुलिस आज खुलासा कर सकती है।                 लेकिन मेरा मानना है कि रुपेश की हत्या बिहार के आपराधिक इतिहास की ऐसी पहली हत्या है जहां तक ना तो बिहार पुलिस की पहुंच है ,ना ही बिहार के अंडर वर्ल्ड का, और ना ही बिहार के  पत्रकारों की पहुंच है ।
जी है रुपेश की हत्या के बाद जिस तरीके से बिहार के सीनियर पुलिस अधिकारी से लेकर सब इन्सपेक्टर लेबल तक परेशान है उससे ये साफ समझ में आ रहा है कि मामला मोबाईल के डम्प और बेउर जेल से सुलक्षने वाला नहीं है।
 क्यों कि इस घटना के बाद पुलिस और अंडर वर्ल्ड से जुड़े ऐसे ऐसे सूरमा भोपाली लोगों का फोन आया है कि मैं खुद हैरान हूं जब उन्हें रुपेश की हत्या की वजह समझ में नहीं आ रही है तो फिर दूसरे कि क्या विसात है।
              इसकी एक बड़ी वजह यह है कि रुपेश जिस वर्ल्ड में विचरण करता था वहां आम लोगों कि कौन कहे बड़े बड़े सूरमा भोपाली तक की पहुंच नही है।
                जिसका दोपहर का भोजन लीमेरेडियन दिल्ली में हो और रात का डिनर मुंबई के ताज होटल में हो और वो जब गोवा पहुंचे तो राज्य के मंत्री से लेकर सीनियर आईएस अधिकारी तक मेहमाननवाज़ी में लगा हो उसके दुश्मन के बारे में समझ पाना आसान काम है क्या बिहार और बिहार से जुड़े ऐसा कौन सा अधिकारी ,मंत्री,विधायक, बिज़नेस आईकोन और अंडर वर्ल्ड से जुड़े डांन से इनका रिश्ता नहीं रहा है ।
   सर्व सुलभ जिसकी पहुंच आप सोच नहीं सकते हैं और इसकी वजह पटना एयरपोर्ट था जहां से रोज़ाना किसी ना किसी भीभीआईपी का आना जाना लगा ही रहता है और यही वजह है कि पुलिस और पत्रकार भी हवा में ही तीर चला रहा है देखिए कब निशाने पर तीर लगता है वैसे इसको मरवाने वाला और इसको मारने वाला भी इसका अपना ही है अगर ऐसा नहीं होता तो अभी तक कई लाशें बिछ गयी रहती। क्यों कि रुपेश की हत्या से अधिकारी ,मंत्री,विधायक, बिज़नेस आईकोन और अंडर वर्ल्ड से जुड़े डांन का सौ करोड़ो रुपया से अधिक रुपया डूब गया है क्यों कि रुपेश ब्लैक मनी को भी ठिकाने लगाने अपने मित्रों को काफी सहयोग करता है ।
                                                        देखिए आगे आगे होता है क्या लेकिन इतना तय है कि रुपेश सिंह की हत्या से बिहार एक बार फिर सहम गया है ,हर कोई भयभीत है कि अब किसकी बारी है क्यों कि रुपेश जिस वर्ल्ड से जुड़ा था वहां हत्या जैसी वारदात को अंजाम देने कि सोच नहीं रही है और यही वजह है कि हर कोई परेशान है कि ऐसी क्या बात हुई जो रुपेश को अपनी जान गवानी पड़ी है वैसे रुपेश को इसका एहसास था की मेरी हत्या हो सकती है ।

इंडिगो एयरलाइंस के स्टेशन मैनेजर रुपेश सिंह की हत्या मामले में अभी भी पुलिस का हाथ खाली ही है