मुजफ्फरपुर डकैतों ने नहीं किया लड़की अपहरण प्रेमी के साथ भागी लड़की प्रेमी संग पकड़ी गई 

मुजफ्फरपुर डकैतों ने नहीं किया लड़की अपहरण प्रेमी के साथ भागी लड़की प्रेमी संग पकड़ी गई 

 

  मुजफ्फरपुर डकैती मामला में जिस लड़की के अपहरण की कहानी मीडिया सुर्ख़ियों में तैर रहा था अब उसका हकीकत सामने आ चूका है I  लड़की को डकैतों ने नहीं किया था अगवा बल्कि वह अपने प्रेमी के साथ  भाग गई थी I प्रेमी के साथ भागी लड़की पुलिस की पकड़ में आ गई है और उसने पुलिस को ब्यान में बताया कि वो अगवा नहीं हुई बल्कि स्वयं अपनी मर्जी से भागी थी I 
          ज्ञातब्य हो कि बिहार की मिनी राजधानी कहे जाने वाले उत्तर बिहार के बड़े शहर मुजफ्फरपुर जिले में पिछले दिनों एक मामला सामने आया था I ये घटना ही कुछ ऐसी थी, जिसको लेकर आम लोगों में न सिर्फ हमदर्दी और बल्कि आक्रोश दोनों पैदा हो गए थे I  एक तरफ लोगों के मन में पुलिस प्रशासन के खिलाफ आक्रोश पैदा हुआ तो वहीं जिसके साथ घटना हुई उनके लिए हमदर्दी देखने को मिली I लेकिन जब लड़की पकड़ी गई प्रेमी के साथ तो कर दिया सनसनीखेज खुलासा I मुजफ्फरपुर के दिघरा गांव में नाबालिग लड़की को डकैतों द्वारा अपहरण कर लेने का मामला सामने आया था I इसे लेकर एक तरफ थाने में रिपोर्ट दर्ज करवा दी गई लेकिन दूसरी ओर  लोग सड़क पर निकलकर प्रदर्शन करने लगे I हद तो तब हो गई जब इस घटना को लेकर राजनीतिक पार्टियों ने हंगामा शुरू कर दिया I आज भी कई राजनीतिक दलों के द्वारा आक्रोश जताते हुए मार्च को निकाला गया I जिला समाहरणालय तक मार्च पहुंचा और जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा गया I लोगों ने ज्ञापन देकर चेतवानी भी दे दी कि अगर दो दिनों में बच्ची बरामद नहीं हुई तो शहर में चक्का जाम कर दिया जाएगा I यहाँ तक कि राजनीतिक रोटी सेंकने वाले बिहार पुलिस निजाम पर भी अनर्गल बयानबाजी करने लगे I
      लेकिन पुलिस ने उस लड़की को सकुशल बरामद कर लिया है I इतना ही नहीं नाबालिग युवती के साथ उसका प्रेमी पकड़ा गया है I पुलिस को लड़की ने जो जानकारी दी उसके मुताबिक उसे डकैतों ने अगवा नहीं किया था, और न ही उसके घर में किसी तरह की डकैती हुई थी I परिजनों ने बेटी के प्रेम प्रसंग में भाग जाने की घटना को छुपाने के लिए इसे डकैती का रूप दे दिया I हद तो तब हो गई जब घरवालों ने बेटी को डकैतों द्वारा अगवा कर लिए जाने का आरोप भी लगा दिया I पुलिस के सामने युवती ने खुलासा किया है कि वो कुछ आभूषण लेकर अपने प्रेमी के साथ मर्जी से चली गई थी I फरार होने से पहले युवती ने अपने साथ घर में पड़े लाखों के जेवरात और पैसे भी ले गई I  इस बात की जानकारी जब घरवालों को हुई तो घरवालों ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करवाई कि लूट के इरादे से घर में घुसे अपराधियों ने पहले लूट-पाट की फिर नाबालिग बेटी को उठाकर ले गए  जो कि बिल्कुल झूठी थी I युवती ने बताया कि ये सारी मनगढ़ंत बातें उसके घरवालों ने अपनी इज्जत बचाने के लिए की थी I ताकि समाज को ये न पता चले कि उसकी बेटी किसी और के साथ घर छोड़कर फरार हो गई है I 
             गौरतलब है पिछले दिनों जब ये मामला सामने आया था तब से अबतक लगातार प्रदर्शन का दौर चल रहा था I पुलिस भी हैरान थी कि भला लूट के इरादे से घर में घुसे चोर किसी युवती को क्यों उठाकर ले जाएंगे ? उनके लिए ये एक बड़ी चुनौती बनी हुई थी कि कैसे अपराधियों के साथ युवती को बरामद किया जाए i लेकिन जब घर में चोरी ही नहीं हुई और कोई अपराधी आया ही नहीं तो भला पुलिस किसे पकड़ेगी I लेकिन पुलिस लगातर युवती की तलाश में जुटी हुई थी I अंततः पुलिस ने युवती को बरामद किया और सारी बातें सामने आ गई I अब देखना है कि झूठी रिपोर्ट और लोगों को भ्रमित करने के आरोप में पुलिस युवती के घरवालों के खिलाफ क्या कार्रवाई करती है I