सिवान के बढेया पंचायत के बढेया गाँव में बने जल मीनार में घोर अनियमितता 

सिवान के बढेया पंचायत के बढेया गाँव में बने जल मीनार में घोर अनियमितता 

 

                बिहार के सिवान जिला अंतर्गत बढेया पंचायत के बढेया गाँव में बने जल मीनार में घोर अनियमितता का मामला सामने आया है I बढेया गाँव निवासी पटना में रह रहे अधिवक्ता श्री रघुनाथ ओझा की रैयती जमीन पर वहां के अपराधिक प्रवृति के दबंग मुखिया सुभास शर्मा ने घोर अनियमितता करके जल मीनार बना दिया है I रैयती जमीन के मालिक अधिवक्ता श्री रघुनाथ ओझा पटना में अपने पुरे परिवार के साथ रहते हैं I इन्होने बताया है कि हमने जल मीनार बनाने के लिए किसी को कोई स्वीकृति नहीं दिया है I साथ ही साथ उस जमीन पर किसी को जल मीनार बनाने के लिए जमीन का रजिस्ट्री नहीं किया है I वहां बांस का बसवार था जिसका अस्तित्व समाप्त कर दबंग मुखिया ने जल मीनार बना दिया है I मुखिया ने लगभग पच्चास हजार मूल्य का मेरा बसवार उजाड़ दिया और तीन पीढ़ियों से हमारा जो बसवार चला आ रहा था उसका अस्तित्व मिटाकर मेरे मान सम्मान और इज्जत को ठेस पहुँचाया है I मेरे बांस की लुट किया गया है I   
             नागरिक अधिकार मंच के महासचिव रमेश कुमार चौबे को जब इस अपराधिक कृत्य की जानकारी हुई तो इन्होने मानवता के नाते अपराधिक प्रवृति के दबंग मुखिया के अपराधिक कृत्य को उजागर करने के लिए सूचना अधिकार के तहत सम्पूर्ण जानकारी मांगी है I लेकिन अब तक प्रशासनिक अधिकारियों ने कोई सूचना नहीं दिया है I जिससे जाहिर होता है कि इस अनियमितता में प्रशासनिक संलिप्तता भी हो सकता है I नागरिक अधिकार मंच के महासचिव रमेश कुमार चौबे ने जीरादेई प्रखंड विकास पदाधिकारी को प्रेषित अपने सूचना आवेदन में विन्दुवार जानकारी मांगी थीI  जिसको प्रखंड विकास पदाधिकारी ने जानबूझ कर नजरअंदाज कर दिया है I सूचना आवेदन में मांग किया गया था कि ग्राम बढेया पंचायत बढेया प्रखंड जीरादेई जिला सिवान में बने जल मीनार से संबंधित निम्नांकित सूचना जनहित में उपलब्ध करावें 
1 जल मीनार किस योजना अंतर्गत और कुल कितनी राशि के लगत से बना है I
2 जल मीनार बनाने के लिए ग्राम सभा द्वारा स्वीकृत प्रस्ताव की अभिप्रमाणित प्रति जनहित में उपलब्ध करावें I
3 जल मीनार बनाने वाले अभिकर्ता के चयन प्रस्ताव एवं कुल भुगतान राशि की विवरणी दी जाय I 
4 जल मीनार किस जमीन में बना है जिसका खाता एवं खेसरा एवं रकबा तथा रैयत का अनापत्ति प्रमाण पत्र एवं रैयत को भुगतान की गई राशि बताई जाय I
           बहरहाल अधिवक्ता श्री रघुनाथ ओझा पटना में अपने पुरे परिवार के साथ रहते हैं और अपराधिक प्रवृति के दबंग मुखिया के अपराधिक कृत्य से डरे सहमे हैं I इन्होने बताया कि जब हम पटना से ग्रामीणों और अपने शुभ चिंतकों की सूचना पर गाँव गए और मुखिया से संपर्क करना चाहे तो उसने मिलने से इंकार कर दिया तथा उसने और भी हमारे रैयती जमीन पर सड़क निर्माण करा दिया है I मुखिया एक अपराधिक गिरोह बनाया है जिसका वो खुद सरगना है I मुखिया के भय से गाँव के लोग भयाक्रांत रहते हैं I
            बिहार सरकार और सिवान जिला प्रशासन और पुलिस अधीक्षक को मामले की जाँच कर मुखिया के अपराधिक कृत्य और जल मीनार में घोर अनियमितता की जांच कर अपराधिक मुकदमा दर्ज करना चाहिए और पीड़ित को न्याय दिलाना चाहिए I जमीन के मार्केट  रेट का दस गुणा राशि भुगतान होना चाहिए तथा विस्थापित रैयत के किसी परिवार को जल मीनार को देखरेख करने हेतु नौकरी दिया जाना चाहिए I  
 

सिवान के बढेया पंचायत के बढेया गाँव में बने जल मीनार में घोर अनियमितता